मशीन लर्निंग क्या है ? In Hindi.

मशीन लर्निंग क्या है ?   आज हम एक बहुत ही मशहूर तकनीक के बारे में जानने वाले हैं जिसका नाम है मशीन लर्निंग आप में से बहुत से लोग जरूर इसका नाम सुना होगा लेकिन इसके बारे में आप और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें जिसमें हम आपको बताने वाले हैं Machine Learning kya hai ? यह काम कैसे करती है ? और इसके क्या क्या फायदे हैं ?

मशीन लर्निंग क्या है ?

मशीन लर्निंग आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस AI का एक भाग है जोकि सिस्टम को यह काबिलियत प्रदान करता है कि वह ऑटोमेटेकली सीख सके और जरूरत पड़ने पर खुद को बेहतर भी बना सके मशीन लर्निंग स्पष्ट रूप से प्रोग्राम के लिए बिना सिस्टम को ऑटोमेटकली लर्न करना सिखा सकती है.

इसमें सिस्टम को कार्य करने के लिए इतना कुशल बना दिया जाता है कि मशीन अगली बार से अपने पिछले अनुभव के आधार पर खुद ही उस कार्य को पूरा कर सके और लगातार उसमें सुधार कर सके जैसे कि हम इंसान करते हैं हम अपने अच्छे बुरे सभी अनुभव से कुछ ना कुछ सीखते हैं और भविष्य में उस अनुभव के आधार पर ही कोई कार्य करते हैं

 

मशीन लर्निंग क्या है ?

 

मशीन लर्निंग के पीछे का कंसेप्ट इसी आधार पर बना है यानी किसी एक विशेष कंप्यूटर या मशीन को इस तरह से प्रोग्राम किया जाता है कि वह यूजर के मन मुताबिक काम कर सके साथ ही यूजर की कमांड और उससे जुड़े डाटा को स्टोर करके रख सके मशीन लर्निंग  कंप्यूटर प्रोग्राम के विकास पर फोकस करता है

जो कि डाटा को खुद ही एक्सेस कर सके और बाद में उसे खुद के लर्निंग के लिए इस्तेमाल कर सके मशीन को सीखने की प्रक्रिया डेटा या ऑब्जेराशन शुरू होती है जिसमे डायरेक्ट एक्सपीरिया  या इन्टरक्शन के जरिये मशीन प्राप्त डेटा में  पैटर्न की तलाश कर सकें

और भविष्य में मनुष्य द्वारा दिए गए उदाहरण के आधार पर बेहतर  निर्णय ले सके मशीन लर्निंग बनाने के पीछे का मुख्य उद्देश्य यही है कि कंप्यूटर बिना किसी इंसान के सहायता से अपने आप ही सीख सके और उसके अनुसार ही कार्य को अंजाम दे आसान भाषा में कहें तो मनुष्य अपने तरह ही सोचने वाला मशीन बनाना चाहता है

मशीन लर्निंग काम कैसे करता है ?

मशीन लर्निंग कृत्रिम बुद्धिमता AI का एक रूप है जो कि कंप्यूटर को इंसानों के समान सोचने के तरीके के बारे में सोचना सिखाता है जैसे पिछले अनुभवों से सीखना और सुधारना यह डाटा की खोज पैटर्न की पहचान करके काम करता है और इसमें कम से कम हुमन इंटरवेंशन शामिल होता है

मशीन लर्निंग को इतना मूल्यवान बनाने का एक बड़ा हिस्सा यह पता लगाने की क्षमता है कि डाटा को रीड या कलेक्ट करते समय मानव की नजरों से क्या छूट गया है

मशीन लर्निंग मॉडल उन जटिल पैटर्न को पकड़ने में सक्षम है जिन्हें हुमैन एनालिसिस के दौरान अनदेखा किया जाता है मशीन लर्निंग के काम करने के  तरीकों को समझाने के लिए इसके प्रकार को समझना बहुत जरूरी है

मशीन लर्निंग कितने प्रकार के होते हैं ?

सामान्य रूप से मशीन लर्निंग एल्गोरिथम चार प्रकार के होते हैं

 

  1. Supervised Learning
  2. Unsupervised Learning
  3. Semi Supervised Learning
  4. Reinforcement Machine Learning

 

 

1. Supervised Learning – इस प्रकार के एल्गोरिदम में मशीन अपने पिछले अनुभवों से जो सीखा हुआ होता है उसे यह नए डाटा में लागू करता है ताकि वह पहले से दिए गए उदाहरण का इस्तेमाल कर के भविष्य में होने वाले घटनाओं का अनुमान लगा सके यह एल्गोरिदम ठीक उसी तरीके से काम करता है

जिस तरह से मनुष्य वास्तव में अपने अनुभवों से सीखते हैं Supervised Learning में मशीन को इनपुट के तौर पर विभिन्न प्रकार के उदाहरण तथा जवाब दिए जाते हैं जिसे यह एल्गोरिदम इन उदाहरण से सीखती है और इन इनपुट्स के आधार पर सही आउटपुट का अनुमान लगाती है

2. Unsupervised Learning – Unsupervised  मशीन लर्निंग एल्गोरिथम के विपरीत इसमे इनपुट के रूप में उदाहरण और जवाब पहले से ही नहीं दिए जाते हैं इसमें एल्गोरिदम को खुद ही डाटा के आधार पर अनुमान लगाना होता है इसलिए यह एल्गोरिदम टेस्ट  डाटा या रियल डाटा से सीखते हैं

जिन्हें पहले से लेवल क्लासिफिकेशन या कैटेगरी नहीं दिया गया है Unsupervised लर्निंग एल्गोरिदम डाटा में सामानताओं की पहचान करता है और डेटा के प्रत्येक नए टुकड़े में ऐसे समान्यताओ के उपस्थित या अनुपस्थित के आधार पर आउटपुट देता है

3. Semi Supervised Learning –  यह एल्गोरिदम दोनों Supervised और Unsupervised लर्निंग के बीच में आता है क्योंकि प्रशिक्षण के लिए यह दोनों लेबल और अनलेवल डाटा का इस्तेमाल करता है वह सिस्टम जो इस एल्गोरिदम मेथड का इस्तेमाल करता है वही बड़ी ही आसानी से अपनी लर्निंग एबिलिटी को समय-समय पर काफी सुधार करने में सक्षम होता है

4. Reinforcement Machine Learning – Reinforcement Machine Learning  एक सीखने की विधि है जो क्रियाओं को प्रस्तुत करके अपने आसपास के वातावरण से बातचीत करता है और साथ ही एरर को भी डिस्कवर करता है ट्रायल और एयर को खोज निकालना

और उनके बारे में पता लगाना इस एल्गोरिदम की खासियत है यह मेथड मशीन और सॉफ्टवेयर एजेंट  को किसी भी विशेष  निर्देश के गतिविधियों का खुद से पता लगाने में सहायता करता है जिससे यह सिस्टम की परफॉर्मेंस को और बेहतर बना सके

मशीन लर्निंग का इस्तेमाल कहां पर किया जा रहा है ?

मशीन लर्निंग का उपयोग करके गूगल बहुत सी नई चीजें कर रहा है जैसे गूगल ट्रांसलेटर सड़क पर लगे संकेत बोर्ड या किसी भाषा में लिखे मैनू की फोटो लेकर उसमें मौजूद शब्दों और भाषा का पता लगाता है और उसका आपके भाषा में उसी समय ट्रांसलेट कर देता है

ये असल में मशीन लर्निंग एल्गोरिदम का ही कमाल है इसके साथ आप गूगल ट्रांसलेटर से कुछ भी बोल सकते हैं और मशीन लर्निंग के जरिए काम करने वाली Speech recognition यानी बोली को पहचान करने वाली तकनीक अपना काम शुरू कर देगी

 

मशीन लर्निंग

 

Speech recognition  तकनीक का इस्तेमाल गूगल के और भी प्रोडक्ट में होता है जैसे गूगल अप्प में आप अपने वॉइस से कुछ भी सवाल कर सकते  हैं और यूट्यूब में भी आप मनचाही वीडियो को लिखकर सर्च करने के अलावा बोल कर भी सर्च कर सकते हैं

मशीन लर्निंग का इस्तेमाल और भी कई जगहों पर किया जा रहा है दोस्तों जैसे कि फेसबुक शॉपिंग वेबसाइट  ईमेल आईडी दुनिया भर में फेसबुक का इस्तेमाल काफी बड़ी मात्रा में किया जाता है और मशीन लर्निंग का उपयोग फेसबुक में ऑटोमेटिक फ्रेंड टेकिंग सजेशन में किया जाता है

इसमें फेस डिडक्शन और इमेज के आधार पर फेसबुक अपने डेटाबेस में चेक करता है और किसी फोटो या इमेज को पहचान लेता है जब आप ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तो आपने देखा होगा कि आपके सर्च किए गए प्रोडक्ट से जुड़ी जानकारियां आप को हर जगह दिखाई देने लगती है

जैसे आपने अमेज़न पर कुछ सर्च किया है और कुछ देर बाद जब आप फेसबुक या यूट्यूब खोलेंगे तो वहां भी आपको उसी प्रोडक्ट से जुड़े विज्ञापन दिखने लगते है तो यह सब असल में मशीन लर्निंग की वजह से दिखाई देता है जिसमें गूगल आपके हर गतिविधि पर नजर रखता है और उसी के अनुरूप विज्ञापन दिखाता है

ठीक इसी तरह EMAIL इस्तेमाल करते समय आपने देखा होगा कि कैसे सिर्फ हमारी जरूरत की इमेल ही इनबॉक्स में आती है और अधिकतर ईमेल स्पैम EMAIL वाले फोल्डर में चली जाती हैं तो इसके पीछे भी मशीन लर्निंग इस्तेमाल होती है दोस्तों जिस में मशीन लर्निंग द्वारा ऑटोमेटिक किसी ईमेल का अकाउंट और सौरसे डिडेक्ट कर लिया जाता है और कुछ गलत पाए जाने पर ईमेल को स्पैम कर दिया जाता है

 

इसे भी पढ़े – टच स्क्रीन क्या है ?

 

मशीन लर्निंग के क्या-क्या फायदे हैं ?

मशीन लर्निंग की फायदे की बात की जाए तो इसे इंसान की जिंदगी काफी आसान हो गई है जहां मशीन लर्निंग का इस्तेमाल लगातार हर क्षेत्र में कार्य को बेहतर करने में किया जा रहा है और इसके लिए लगातार मशीनों को और भी प्रभावी और कुशल बनाया जा रहा है

मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किसी एक क्षेत्र तक सीमित नहीं है बल्कि इस तकनीक का फायदा लगभग हर क्षेत्र में हो रहा है जैसे रिटेल में जहाँ ट्रेड को आसानी से समझा जा सकता है और भविष्य में होने वाली सेल की अनुमान लगाया जा सकता है साथ ही कस्टमर के  ब्राउज़िंग बिहेवियर को समझ कर उचित प्रोडक्ट उनके स्क्रीन पर सुझाया जा सकते हैं

जिसे कस्टमर एक्सपीरियंस बढ़ सके और सेल्स में वृद्धि हो पाए फाइनेंस सेक्टर में भी  मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसे कस्टमर को बेहतर और तेज सर्विस उपलब्ध कराई जा रही है जैसे लेनदेन सुरक्षा बढ़ाना और फ्रॉड गतिविधियों पर रोक लगाना हेल्थकेयर इंडस्ट्री में भी मशीन लर्निंग बहुत तेजी से कार्य कर रही है

 

मशीन लर्निंग

 

मशीन लर्निंग की सहायता से मनुष्य की शारीरिक गतिविधियों द्वारा उनके बीमारी का पता लगाने में मदद मिलती है साथ ही इसे काफी कम खर्च में   स्वास्थ्य सुविधाओं को बड़ा बढ़ावा मिलता है गूगल और फेसबुक में भी मशीन लर्निंग का इस्तेमाल से यूजर को उचित विज्ञापन दिखाते हैं यह सभी विज्ञापन यूजर के पास सर्च बिहेवियर के आधारित होते हैं

इसीलिए इसे टारगेट एड्स भी कहा जाता है इसके अलावा मशीन लर्निंग का उपयोग ऑनलाइन धोखाधड़ी को पकड़ने स्पैम फिल्टर करने और नेटवर्क सिक्योरिटी के क्षेत्र में भी किया जाता है इसी प्रकार  ऐसे बहुत से क्षेत्र हैं जहां मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किया जा रहा है

और ऐसे बहुत से क्षेत्र भी हैं जहां पर इसके लिए रिसर्च किया जा रहा है कि यह कैसे  हमारे लिए फायदेमंद साबित हो सकता है भविष्य में मशीन लर्निंग का उपयोग अधिक चीजों में किए जाने की संभावना है जिस में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का रोल बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

निष्कर्ष 

तो दोस्तों उम्मीद है कि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी मशीन लर्निंग काफी बड़ा विषय है दोस्तों जिसे हमने आपको पूरी जानकारी देने की कोशिश की है आशा है कि आप को इस पोस्ट में मशीन लर्निंग क्या है ? और यह कैसे काम करती है और इसके क्या क्या फायदे हैं यह सभी चीज आपको समझ में आ गई होगी मशीन लर्निंग के बारे में आपकी क्या राय है यह हमें कमेंट में जरूर बताएं

Default image
RAHUL

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम राहुल विश्वकर्मा है , और मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ । मैं अभी कंप्यूटर साइंस से डिप्लोमा कर रहा हूँ , मुझे टेक्नोलॉजी से संबंधित जानकारी शेयर करना बेहद पसंद है । अगर आप टेक्नोलॉजी , कंप्यूटर , इंटरनेट और ऑनलाइन पैसे कैसे कमाये से सम्बंधित विषय मे रुचि रखते है , तो यह ब्लॉग आप के लिए ही बनाया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.