Data Breach Kya Hai ? Data Breach Meaning In Hindi 2021 .

Data Breach Kya Hai in hindi ? इस इंटरनेट की दुनिया मे आज कल ऑनलाइन चोरी या धोका दड़ी बहोत ज्यादा हो गया है ऑनलाइन चोरी बहोत सारे तरीको से हो रही है और उस तरीके में से एक तरीके का नाम है Data Breach . आज हम आप को इस पोस्ट में  ( Data Breach kya hota hai in hindi ) के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है

Data Breach Meaning In Hindi .

Data breach एक ऐसी घटना है जो सिस्टम के मालिक के ज्ञान के बिना ही उसके सिस्टम से डेटा चोरी की जाती है । data breach का उपयोग एक छोटी कंपनी या किसी बड़ी कंपनी के जानकारी को चोरी करने के लिए किया जाता है । चोरी किये गए जानकारी में क्रेडीट कार्ड नंबर ग्राहक डेटा , व्यापार का रहस्य , राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले आदि की जानकारी शामिल हो सकती है । data breach से व्यवसायों और उपभोक्ताओं को बहोत तरह से नुकसान पहुचता है इस नुकसान को ठीक करने में बहोत ज्यादा खर्च भी उठाना पड़ सकता है और बहोत समय भी लग सकता है ।

 

Data Breach Kya Hai ? Data Breach Meaning In Hindi .

 

आज कल समाचारो पर भी Data Breach के नुकसान को बताया जा रहा है जैसे जैसे तकनीक आगे बढ़ रही है वैसे वैसे हमारी अधिक से अधिक जानकारी डिजिटल हो रही है और data breach का भी खतरा बढ़ता चला आ रहा है इस डिजिटल दुनिया मे सभी लोगो की जानकारी इंटरनेट पर चल रही है और यह जानकारी ऑनलाइन अपराधियो के लिए एक मौका है जो data breach का उपयोग करके लोगो को नुकसान पहुचा रहे है

 

Data Breach क्यो होता है ? 

Data breach साइबर क्राइम अपराधियो के लिए यह एक लाभदायक बिज़नेस है और इस बिज़नेस का विकाश जारी है हैकर्स data breach का उपयोग करके आप का ऑनलाइन पैसा चोरी , आप का पर्सनल जानकारी को डार्क वेबसाइट पर बेचना , पर्सनल फ़ोटो या वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर करना इत्यादि और भी जानकारी चोरी कर सकता है ।

 

Data Breach क्यो होता है ? 

 

इसे भी पढ़े — Cache Memory kya hai ?

 

हमारे सिस्टम में Data Breach किन कारणों से होता है ?

 

1. कमजोर पासवर्ड–  उपयोगकर्ता अपना पासवर्ड बहोत ही कमजोर लगता है जिससे हैकर्स को अनुमान लगाना काफी आसान हो जाता है और वह आसानी से आप के सिस्टम को ओपन कर लेता है

2. आप अनजाने में किसी भी डार्क वेबसाइट पर जाकर कोई फ़ाइल या एप्लीकेशन जब डाउनलोड करते है तब उस फ़ाइल या अप्प्स में हैकर्स द्वारा अपलोड किया गया वायरस होता है जो आपके सिस्टम में आ जाता है और आपके सिस्टम पर सारा कंट्रोल हैकर्स का हो जाता है

3. Targets malware attacks– आप हमेशा स्पैम ईमेल का यूज न करे किसी भी अपरिचित स्रोत से ईमेल पर भेजे गए मैसेज या लिंक को ओपन न करे अगर आप इसका पालन नही करते है तो आप के सिस्टम में मैलवेयर अटैक्स होने के बहोत ज्यादा चांस हो जाता है ।

 

Data Breach से कैसे बचें ?

 

 

Data Breach

 

1. मजबूत पासवर्ड का इस्तेमाल करे– अपने प्रत्येक ऑनलाइन खाते के लिए केके जटिल और मजबूत पासवर्ड का उपयोग करे मजबूत पासवर्ड रखने से आप का सिस्टम काफी सुरछित रहेगा और data breach का खतरा भी कम रहेगा

2. अपने बैंक और अन्य वित्तीय खातों की सुरक्षा करे।

3. अपरिचित गतिविधियों के लिए नियमित आधार पर अपने खाते की जांच करे ।

4. अगर कंपनी या ईमेल पर कोई sing up का मैसेज आये तो आप उस मैसेज को ओपन न करे ।

5. अपने क्रेडिट रिपोर्ट की जांच करे आप अपने क्रेडिट की नियमित रूप से जांच करे और पता करे कि आप के नाम पर किसी चोर ने कोई दूसरा क्रेडिट कार्ड तो नही न बना लिया है

6. अगर आप संदिग्ध गतिविधिया देखते है तो तुरंत आप अपने बैंक में जानकारी दे

7. फोन को सुरक्षित करे यदि आपके फोन में पासवर्ड नही है तो आप सबसे पहले एक पासवर्ड लगाए यह आप के फ़ोन की रक्षा करता है यदि आपका डिवाइस खो गया है या चोरी हो गया है तो आप के फ़ोन में रखी गयी कोई भी जानकारी कोई अपराधी एक्सेस नही कर पायेगा जिससे आपकी जानकारी सुरक्षित रहेगी ।

8. केवल सुरक्षित url का उपयोग करे– सुरक्षित साइट https://से शुरू होती है क्रेडिट कार्ड या अन्य व्यक्तिगत जानकारी दर्ज करते समय वेबसाइट की url जरूर देखें । अगर url https:// नही है तो वह वेबसाइट किसी अपराधी की हो सकती है इसीलिए सावधनी जरूर बरते ।

9. उच्च गुणवत्ता वाले सुरक्षा सॉफ्टवेयर्स को लागू करे ।

10. हमेशा सुरक्षा सॉफ्टवेयर्स और सुरक्षा url का ही उपयोग करे और हमेशा इसे up to date करते रहे ।

11. पुराने हार्ड ड्राइव को पोछे अगर आप अपने पुराने कंप्यूटर को री साइकिलिंग कर रहे है तो आप अपने लगी हुई हार्ड ड्राइव को जरूर साफ करें।

Data breach कानून क्या है ?

Data breach कानून हर देश या क्षेत्र में भिन्न होता है कई देशों को अभी भी संगठनों को डेटा breach के मामलो में अधिकारियों को सुचित करने की आवश्यकता नही है । अमेरिका कनाडा और फ्रांस जैसे देशों में कुछ शर्तों के तहत डेटा उलंगन के प्रभावित व्यक्तिओ को सूचित करने के लिए संगठनों को बाह्य किया जाता है

 

निस्कर्ष

आशा है कि आप को इस पोस्ट से Data Breach Kya Hai ? और Data Breach क्यो होता है ? इससे जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है कि हमारी आर्टिकल के जरिए आपको दिए गए विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त हो सके।

ताकि आपको कहीं और जाना ना पड़े इस आर्टिकल से जुड़ी अगर कोई भी परेशानी हो तो आप हमें कमेंट में जरूर बताएं जिससे हम आपके परेशानी को जल्द से जल्द दूर करने की कोशिश करेंगे।

Default image
RAHUL
नमस्कार दोस्तो मेरा नाम राहुल विश्वकर्मा है , और मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ । मैं अभी कंप्यूटर साइंस से डिप्लोमा कर रहा हूँ , मुझे टेक्नोलॉजी से संबंधित जानकारी शेयर करना बेहद पसंद है । अगर आप टेक्नोलॉजी , कंप्यूटर , इंटरनेट और ऑनलाइन पैसे कैसे कमाये से सम्बंधित विषय मे रुचि रखते है , तो यह ब्लॉग आप के लिए ही बनाया गया है ।

Leave a Reply