Graphic Card Kya Hai ? Full Information in hindi .

Graphic Card kya hota hai ? आज कल लोग मनोरंजन के लिए अपने कंप्यूटर और लैपटॉप और मोबाइल फोन पर वीडियो , मूवी , वेब सीरीज इत्यादि देख रहे है कुछ साल पहले हमारे पास मनोरंजन के नाम पर केवल टीवी ही हुआ करता था और अब कंप्यूटर और स्मार्ट फोन ने उसकी जगह ले लिया है क्या आपने कभी सोचा है कि जो कंप्यूटर या लैपटॉप हम इस्तेमाल करते हैं उसमे हम जो भी वीडियो या फोटो देखते हैं वह हम कैसे देख पाते हैं वीडियो और फोटो देखने के अलावा हम कंप्यूटर और मोबाइल फोन पर गेम खेलना भी पसंद करते हैं।

उस वक्त भी हम गेम के सभी कैरेक्टर और विजुअल इफेक्ट को बहुत ही साफ साफ कैसे देख पाते हैं इन सभी सवालों का जवाब है Graphic Card यह ग्राफिक कार्ड ही हैं जिनकी वजह से हम high regulations के वीडियो और गेम अपने कंप्यूटर और मोबाइल फोन में  देख पाते हैं लेकिन यह Graphic Card क्या होता है ? और यह काम कैसे करता है ? यह आज के इस पोस्ट में हम इसी विषय पर पूरी तरह से जानकारी देने वाले है  तो इसीलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

Graphic Card क्या है ?

Graphic Card कंप्यूटर का हार्डवेयर पार्ट  है जो कंप्यूटर और लैपटॉप के मदरबोर्ड से जुड़ा होता है और इसका काम डिवाइस के स्क्रीन पर इमेजेस और वीडियो का उत्पादन कर और प्रकाशित करना होता है।

Graphic Card को कुछ अन्य नामों से भी जाना जाता है जैसे Video Card , Graphics Adapter , Video Controller इत्यादि जब हम कोई फोटो या वीडियो देखते हैं या गेम खेलते हैं कंप्यूटर की स्क्रीन पर हम जो कुछ भी देख पाते हैं वह इसी कार्ड के वजह से ही देख पाते हैं।

 

Graphic Card क्या है ? 

 

ऐसा नहीं है कि अगर आपके कंप्यूटर या लैपटॉप में ग्राफिक्स कार्ड नहीं है तो आप कोई भी फोटो या वीडियो देखे ही नहीं पाएंगे आप बिना ग्राफिक्स कार्ड के बिना भी बिल्कुल देख पाएंगे लेकिन फर्क सिर्फ इतना ही है कि अगर आपके कंप्यूटर में ग्राफिक्स कार्ड है तो वीडियो और इमेज को क्लेअरली देख सकते हैं और इसके बिना बेहतरीन क्वालिटी की वीडियो और इमेजेस अपने कंप्यूटर पर साफ तरीके से नहीं देख पाएंगे।

Graphic Card का इस्तेमाल कंप्यूटर और लैपटॉप के अलावा स्मार्टफोन में  भी किया जाता है हमे अपने डिवाइस के स्क्रीन पर जो भी ग्राफिक्स दिखाई देता है जैसे पिक्चर एनिमेशन उन सभी को स्क्रीन पर प्रदर्शित करने का काम ग्राफिक कार्ड का होता है ऐसा करने के लिए यह कार्ड ग्राफिकल डाटा को सिग्नल में परिवर्तित करता है जिससे मॉनिटर उस सिग्नल को समझ सकता है जितना बेहतर आपके डिवाइस में Graphic Card होगा उतनी ही बेहतरीन क्वालिटी की वीडियो और इमेजेस आपके स्क्रीन पर नजर आएंगे ग्राफिक्स कार्ड खासतौर पर गेमर और वीडियो एडिटर के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है।

 

Graphic Card काम कैसे करता है ?

आपके मॉनिटर पर आपके द्वारा देखें जाने वाले फोटो पिक्सेल नामक छोटे डॉट्स से बने होते है अधिकांश सामान्य realization सेटिंग्स में स्क्रीन पर एक मिलियन 1 पिक्सेल से अधिक पिक्सेल प्रदर्शित होती है।

कंप्यूटर को यह तय करना होता है की एक इमेज बनाने के लिए हर एक पिक्चर के साथ क्या किया जाए ऐसा करने के लिए इसे एक ट्रांसलेटर की आवश्यकता होती है जो सीपीयू से बाइनरी डाटा लेकर इसे एक तस्वीर में बदल देता है जिसे हम देख सकते हैं ऐसा करने के लिए सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन के साथ मिलकर काम करने वाले सीपीयू इमेज के बारे में जानकारी कंप्यूटर में लगे ग्राफिक कार्ड को भेजता है चित्र बनाने में ग्राफ़िक्स कार्ड स्क्रीन पर पिक्सेल का उपयोग करने का तरीका तय करता है।

तय करने के बाद कार्ड उस सूचना को एक केबल के माध्यम से मॉनिटर को भेजता है तभी हम मॉनिटर पर किसी भी तरह का इमेज देख पाते हैं मॉनिटर पर छवि प्रदर्शित करने के लिए जब तक किसी कंप्यूटर में ग्राफिक्स की छमता मदरबोर्ड में  निर्मित नहीं होती तब तक वह ट्रांसमिशन ग्राफिक्स पर होता है।

 

Graphic Card कितने प्रकार के होते है ? 

Graphic Card असल में दो प्रकार के होते हैं।

 

  1. Energetic Graphic
  2. Discrete Graphic

 

Energetic Graphic :- Energetic Graphic भी कंप्यूटर या लैपटॉप के मदरबोर्ड में पहले से ही इन बिल्ड होता है अधिकांश लोग इंटरनेट सर्फिंग जैसे कार्यों के लिए एक आधुनिक कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हैं डॉक्यूमेंट बनाने या मूवी देखने जैसे निजी कार्यो के लिए  Energetic Graphic का इस्तेमाल किया जाता है।

Discrete Graphic : –  यदि कोई यूजर  गेमिंग या वीडियो एडिटिंग जैसे हाई ग्राफिक वाले सॉफ्टवेयर को अपने कंप्यूटर पर चलाना चाहते हैं तो उसके लिए Discrete Graphic कार्ड का उपयोग किया जाता है जोकि डिवाइस में इनबिल्ट नहीं होता Discrete का मतलब होता है अलग इसीलिए Discrete Graphic कार्ड को कंप्यूटर या लैपटॉप में अलग से लगाया जाता है अलग से ग्राफिक कार्ड लगाने की आवश्यकता उन लोगों को पड़ती है जिन्हें अपने कंप्यूटर पर हाई क्वालिटी का वीडियो देखना होता है या गेम खेलना होता है क्योंकि साधारण काम के लिए Energetic Graphic कार्ड ही काफी होता है।

कंप्यूटर के इनबिल्ट Graphic Card  ग्राफिक्स के प्रोसेसिंग के लिए  उस कंप्यूटर की सीपीयू का उपयोग करते हैं लेकिन  उस कंप्यूटर में हम  हाई ग्राफिक का गेम खेलते हैं या किसी वीडियो एडिटिंग का सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करते हैं तो हमारा कंप्यूटर हैंग हो जाएगा।

ऐसा इसलिए होगा क्योंकि उस समय ग्राफिकल डाटा को ट्रांसलेट करने के लिए कंप्यूटर की सीपीयू और  रैम का उपयोग किया जा रहा है जिससे कंप्यूटर पर लोड बढ़ता है और वह हैंग हो जाता इसीलिए जो भी यूजर हाई  ग्राफिक्स का गेम खेलना पसंद करते हैं या वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करते हैं तो वह Discrete Graphic कार्ड अपने सीपीयू में लगाएं इस ग्राफिक कार्ड के पास खुद का रैम और प्रोसेसर होता है जहां पर ग्राफिकल डाटा प्रोसेसिंग के लिए खुद का प्रोसेसर और रैम का इस्तेमाल करता है जिसकी वजह से कंप्यूटर ग्राफिक इमेज देखने के लिए इसकी सीपीयू पर लोड नहीं पड़ता और यह सुचारू रूप से काम करता है।

 

TCP KYA HAI ?

Data Breach Kya Hai ?

 

Graphic Card के प्रमुख ( components ) भाग क्या क्या है ?

जैसे कि हमने आपको ऊपर बताया की Graphic Card गेमिंग लैपटॉप या हाई वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए एक महत्वपूर्ण पाठ है यह भारी मात्रा में बिजली का इस्तेमाल करता है और इनमें विभिन्न कॉम्पोनेंट्स होते हैं जो पूरी तरह से ग्राफिक्स प्रोसेसिंग के लिए काम करते हैं कई यूजर ग्राफिक्स कार्ड के विभिन्न कॉम्पोनेंट और उसके भागो के बारे में नहीं जानते इसीलिए उनके लिए हम यहां ग्राफिक्स कार्ड के सभी प्रमुख घटकों के बारे में बताने वाले हैं।

Graphic Card के प्रमुख कॉम्पोनेंट हैं –

 

  • GPU
  • VRAM
  • VRM
  • Cooler

 

GPU :- GPU का फुल फॉर्म है Graphical Processing Unit  जिसे Graphical  Card प्रोसेसर भी कहा जाता है जो कंप्यूटर के सीपीयू के समान होता है GPU की ग्राफिक्स कार्ड का मुख्य हिस्सा है जो कार्ड का विशेष कार्य यानी ग्राफिक्स की प्रोसेसिंग करता है GPU को विशेष रुप से  मैथमेटिकल और ज्योमैट्रिकल कैलकुलेशन करने के लिए डिजाइन किया गया है जो ग्राफिक्स प्रोसेसिंग के लिए आवश्यक है आमतौर पर अधिकार ग्राफिक्स कार्ड केवल एक GPU के साथ आते हैं

लेकिन कुछ ग्राफिक्स कार्ड दो GPU के साथ भी आते हैं GPU का कार्य इसके अटरिचेक्टर   नियंत्रित होता है जिसे GPU आर्किटेक्चर के रूप में जाना जाता है ग्राफिक्स कार्ड बनाने वाले वाली कंपनियां अलग-अलग इसकी डिजाइन करते हैं जितना बेहतरीन इसका आर्किटेक्चर होगा उतना ही बेहतर उसका परफारमेंस होगा और दूसरे के मुकाबले कम बिजली का इस्तेमाल करेगा।

VRAM :- VRAM  का का फुल फॉर्म है Video RAM जिसे वीडियो मेमोरी भी कहा जाता है यह ग्राफिक्स कार्ड का दूसरा महत्वपूर्ण हिस्सा है Video मेमोरी ग्राफिक्स कार्ड में जहां पर GPU द्वारा processing  के लिए ग्राफिक्स डाटा को स्टोर किया जाता है ग्राफिक्स डाटा प्रोसेसिंग करके GPU एक इमेज बनाता है तो उसे बने  हुए इमेज की जानकारी को स्टोर करने की आवश्यकता होती है इस  उद्देश्य के लिए भी GPU ग्राफिक्स कार्ड के लिए इसका उपयोग करता है।

VRM :- VRM का पूरा नाम Voltage Regulator Module  जो ग्राफिक्स कार्ड में लगे मुख्य सर्किट है VRM के जीपीयू के पावर सप्लाई करती है VRM कंप्यूटर में मुख्य सप्लाई से आ रहे हाई वोल्टेज को लो वोल्टेज में परिवर्तित करती है उसके बाद ही जीपीयू उपयोग करने के लिए पावर सप्लाई भेजती है VRM जीपीओ की तुलना में बहुत गर्म हो जाते है जिनके लिए उन्हें एक अच्छी कूलिंग  सिस्टम की जरूरत भी होती है जिससे वह ग्राफिक्स कार्ड को हैंग होने से बचा सके।

Cooler :- Cooler हर ग्राफिक कार्ड के साथ एक कूलर लगा हुआ रहता है जो GPU VRAM VRM के तापमान को सुरक्षित स्थान पर रखने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ग्राफिक्स कार्ड की कॉम्पोनेंट को ठंडा रखने के लिए कूलर में एक Fan लगा होता है जो GPU को ज्यादा कर ज्यादा गर्म होने से बचाता है।

निष्कर्ष 

आशा है की आप को इस पोस्ट के जरिये Graphic Card क्या होता है ? और यह काम कैसे करता है ? के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होंगी मेरी हमेशा से एहि कोशिश रहती है की आप को दिए गए विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त हो सके जिससे आप को कही और जाना न पड़े अगर आप को इस पोस्ट से जुडी कोई भी परेशानी हो तो आप हमे निचे कमेंट में जरूर बताये जिससे हम आप के परेशानी को जल्द से जल्द दूर कर सके।

Default image
RAHUL
नमस्कार दोस्तो मेरा नाम राहुल विश्वकर्मा है , और मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ । मैं अभी कंप्यूटर साइंस से डिप्लोमा कर रहा हूँ , मुझे टेक्नोलॉजी से संबंधित जानकारी शेयर करना बेहद पसंद है । अगर आप टेक्नोलॉजी , कंप्यूटर , इंटरनेट और ऑनलाइन पैसे कैसे कमाये से सम्बंधित विषय मे रुचि रखते है , तो यह ब्लॉग आप के लिए ही बनाया गया है ।

Leave a Reply