Integrated Circuit IC Kya Hai ? इसका उपयोग कहाँ होता है ?

आप लोगो ने Integrated Circuit जिसे IC कहा जाता है इसके बारे में आप लोगो ने जरूर सुना होगा । अगर आप को IC के बारे में पूरी जानकारी जननी है तो आप इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े।

 

IC KYA HOTA HAI ? 

IC जिसे Integrated Circuit कहा जाता है यह एक small chip होता है जो की अर्धचालक सामग्री से बनी होती है इस छोटे से चिप में कई सारे इलेक्ट्रानिक घटक होते है जैसे transistors capacitors diodes और resistors को एक तार के माध्यम से आपस में जोड़ा गया होता है ।

Integrated Circuit के आविष्कार के चलते ही आज के मोर्डन जमाने के इलेक्ट्रानिक सामग्री का विकास हो पाया है आप ने ENIAC COMPUTER के बारे में सुना होगा यह 1940 के दशक में उपयोग होता था इसका आकार बहुत बड़ा हुआ करता था यह 50 फुट वाले रूम में आता था और इसका वजन करीब 30 टन हुआ करता था ।

पुराने इलेक्ट्रानिक डिवाइस इसलिए बड़े हुए करते थे क्योंकि आज इस्तेमाल किये गए Integrated Circuit के जगह स्विचिंग कॉम्पोनेन्ट जैसे वैक्यूम ट्यूब्स जैसे सामान्य सर्किट का उपयोग करते थे ।

Integrated Circuit IC से जुड़े कुछ प्रमुख पॉइन्ट 

Integrated Circuit एक कंप्यूटर मेमोरी की तरह कार्य करती है ।
यह एक छोटा Monolithic chip होता है जिसका आकर कुछ वर्ग मिलीमीटर में होता है ।
पहली Integrated Circuit चिप का अविष्कार सन 1959 में Robert Noyce ने किया था ।
Integrated Circuit चिप में छोटे आकार हल्के वजन और कम विजली की खपत होती है ।
इस सर्किट का उपयोग सभी बड़े बड़े इलेक्ट्रानिक उपकरणों में अलग अलग उद्देश्यों के लिए उपयोग होता है ।

 

Graphic Card kya hota hai ?

Integrated Circuit अविष्कार के बाद कंप्यूटर डिजाइन कैसे बदला ? 

अभी हमने ऊपर आप को ENIAC कंप्यूटर और उसके साइज के बारे में बताया है ।यह आधुनिक कंप्यूटर से लगभग 100 गुना अधिक बड़ा हुआ करता था लेकिन आज के कंप्यूटर के मुकाबले ENIAC की कार्य क्षमता कुछ भी नही है ।

यह सब Integrated Circuit के आने के बाद ही संभव हो पाया है क्योंकि पुराने कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले इलेक्ट्रानिक तत्व साइज में बहुत बड़े हुआ करते थे लेकिन जब 1958 में जब Integrated Circuit को कंप्यूटर में इस्तेमाल किया जाने लगा तब से computer के साइज और लागत दोनों में कमी आयी है ।

Integrated Circuit टेक्नोलॉजी आने के बाद केवल कंप्यूटर का डिजाइन ही नही बदला बल्कि पूरे इलेक्ट्रानिक उधोग को बदला है इसके आने के बाद ही मोबाइल फोन Tv डिजिटल वाच व और भी ऐसे कई इलेक्ट्रानिक उपकरणों का निर्माण संभव हो पाया है ।

Integrated Circuit को बनाने के पीछे का उद्देश्य था कि कंप्यूटर के सभी इलेक्ट्रानिक उपकरणों के बीच कनेक्शन स्थापित करके उन्हें सिंग्नल सर्किट में ला देना । हालांकि शुरुआती IC सर्किट आज के जितना कुशल नही हुआ करती थी लेकिन इसमें लगातार सुधार होते थे और इसी कारण हम मिक्रोएलेक्ट्रॉनिक गडेट्स का निर्माण कर पा रहे है ।

 

TCP KYA HAI ? 

Integrated Circuit चिप की जनरेशन 

आज के मुकाबले पहले Integrated Circuit चिप में हजारों कॉम्पोनेन्ट इक्क्ठा नही हो पाते थे बल्कि पहले Integrated Circuit में कुछ ही इलेक्ट्रानिक कॉम्पोनेन्ट इक्क्ठा हो पाते थे जैसे जैसे तकनीकी आगे बढ़ने लगी वैसे वैसे एक सिंगल चिप में बहुत सारे कॉम्पोनेन्ट इक्क्ठा होने लगे ।

 

  • Small Scale Integration ( SSI )
  • Medium Scale integration ( MSI )
  • Large Scale Integration ( LSI )
  • Very Large Scale Integration ( VLSI )
  • Ultra Large Scale Integration ( ULSI )

IC के कितने प्रकार होते है ? 

Integrated Circuit विभिन्न प्रकार के होते है लेकिन मापदंडो कर आधार पर तीन प्रकार के होते है ।

 

  • Analog IC
  • Digital IC
  • Mixed Single IC

IC की क्या विशेषताएं है ? 

  • Integrated Circuit के चलते ही इलेक्ट्रानिक क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण अविष्कार हुआ ।
  • पुराने IC के मुकाबले नया IC आकर में बहुत छोटा होता है ।
  • IC का आकार छोटा होने के साथ साथ वजन में भी कही हल्का होता है ।
  • इस IC को खराब हो जाने पर आसानी से बदला जा सकता है लेकिन इसके ठीक नही किया जा सकता है ।
  • इस Integrated Circuit का इस्तेमाल करने से विजली की खपत बहुत कम होती है ।
 निष्कर्ष

आशा है की आप को इस पोस्ट के जरिये Integrated Circuit IC Kya Hai ? इसका उपयोग कहाँ होता है ? के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होंगी मेरी हमेशा से एहि कोशिश रहती है की आप को दिए गए विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त हो सके जिससे आप को कही और जाना न पड़े अगर आप को इस पोस्ट से जुडी कोई भी परेशानी हो तो आप हमे निचे कमेंट में जरूर बताये जिससे हम आप के परेशानी को जल्द से जल्द दूर कर सके।

1 thought on “Integrated Circuit IC Kya Hai ? इसका उपयोग कहाँ होता है ?”

Leave a Comment