Modem और Router क्या होते है ? हिंदी में पूरी जानकारी।

Modem kya hai ? आज का हमारा जो युग है वह इंटरनेट का युग है इंटरनेट एक बहोत बड़ा नेटवर्क है जो पूरी दुनिया के कंप्यूटर को एक साथ जोड़ता है । हम अपने डिवाइस में दो तरीके से इंटरनेट का इस्तेमाल कर पाते है एक तो cellular network से और दूसरा इंटरनेट कनेक्ट के माद्यम से cellular network को छोड़ कर जब हम डिवाइस में इंटरनेट को एक्सेस कर पाते है तो वह हम एक Modem के माद्यम से ही डिवाइस को इंटरनेट से कनेक्ट करते है और जो हम डेटा एक डिवाइस से दूसरे देवीकेस में भेजते है वह हम एक router की मदद से कर पाते है

दोनों इंटरनेट से ही जुड़ा होता है modem और router दोनो ही हमारे डिवाइस में इंटरनेट की सेवा प्रदान करने की सहायता प्रदान करते है लेकिन इन दोनों के बीच क्या अंतर होता है इसके बारे में सभी को जानकारी नही है तो इसीलिए आज के इस पोस्ट में हम आप के लिए modem और router के बीच के अंतर के बारे में बताने वाले है

Modem kya hai – What is Modem in hindi ?

Modem शब्द mod अर्थात modulator और dem मतलब demodulator से मिल कर बना हुआ है यह एक ऐसा डिवाइस है जो डिजिटल सिग्नल को एनालॉग सिग्नल में और एनालॉग सिग्नल को डिजिटल सिग्नल में परिवर्तित करता है यानी modem सिग्नल का modulator और demodulator करता है modem का उपयोग दो कंप्यूटर को टेलीफोन लाइन के माद्यम से एक दूसरे से संचार करने में किया जाता है

 

Modem क्या है  ? 

 

यहां आप को यह जानना जरूरी है दोस्तो की कंप्यूटर डिजिटल modem पर कार्य करता है जबकि एनालॉग तकनीकी का उपयोग टेलीफोन लाइन के संदेशों के आदान प्रदान के लिए किया जाता है modem एक इनपुट और output डिवाइस है जिसका उपयोग टेलीफोन लाइन पर इनफार्मेशन या डेटा भेजने और प्राप्त करने दोनो के लिए किया जाता है टेलीफोन लाइन Analog रूप में डेटा और सूचना भेजती है डिजिटल रूप में ही इसीलिए modem convergan टूल भी है जो एक डिवाइस के सिग्नल को अन्य डिवाइस समझ सके ऐसे सिग्नल में कन्वर्ट करता है

 

 Modem कार्य कैसे करता है ?

 

टेलीफोन लाइन द्वारा केवल Analog सिग्नल का ही संचार किया जा सकता है डिजिटल सिग्नल का संचार नही किया जा सकता है लेकिन कंप्यूटर द्वारा डिजिट सिग्नल को Analog सिग्नल में परवर्तित करके टेलीफोन लाइन द्वारा अपने modem द्वारा फिर से Analog सिग्नल को डिजिटल  सिग्नल में परिवर्तित करके अन्य कंप्यूटर पर प्राप्त कर लिया जता है इस प्रकिया को modulator और demodulator कहा जाता है modem का modulator पोर्ट digital सिग्नल को Analog सिग्नल में कान्वेंट करता है  और demodulator port Analog सिग्नल को डिजिटल सिग्नल में convert  करता है इस तरह एक modem के जरिये एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में डेटा ट्रांफॉर किया  जाता है

 

 Modem कार्य कैसे करता है ?

 

जब 1962 में पहला modem तैयार किया गया था तब modem डैनफ हुआ करते थे मतलब डिवाइस को ISP INTERNET Service Provider कनेक्ट करने के लिए modem में एक फ़ोन नंबर डायल करना होता था यह modem फ़ोन लाइन पर ऑपरेट होते थे और टेलीफोन फ्रिक्वेन्सी का इस्तेमाल करते थे

जिसे अधिक डेटा ट्रांसफर 56 kbps तक उम्मीद था डॉयलप modem लोकल टेलीफोन लाइन का पूरा उपयोग करते है इसीलिए एक बार मे यूजर या तो इंटरनेट चला सकता है या वौइस् कॉल कर सकता है अभी के समय मे modem में बहुत कुछ बदलाव किए गए है आज DSL और केबल modem का उपयोग किया जाता है  जिन्हे  Broadband device भी कहा जाता है

 

modem kya hota hai ?

 

DSL MODEM भी स्टैंड टेलीफोन लाइन पर ऑपरेट होते है लेकिन यह हाई इफ़ेक्ट रेसिडेंस का उपयोग करते है DSL modem डायलअप modem की तुलना में अधिक देता ट्रांसफर रेट  किअनुमाती पर प्रदान करता है और साथ ही वौइस् कॉल पर रोक भी नही लगने देते केबल modem telephone लाइन पर डेटा भेजते और प्राप्त करते है जो आमतौर पर कॉक्सजियालक केबल होते है

ज्यादातर Cable modem data over cable service interface specification ( DOCSIS )का सपोर्ट करते है जो कुशलता से बिछी केबल लाइन में tv cabel इंटरनेट और डिजिटल फ़ोन सिग्नल को आसानी से ट्रांफर करने का एक प्रभावी तरीका प्रदान करता है brodbank modem को हाई स्पीड मॉडेम के रूप में भी जाना जाता है और आज सभी जगहों पर इंटरनेट एक्सेस करने के लिए इसी का इस्तेमाल किया जाता है

 

Router kya hai ? 

 

Router छोटा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होता है जो कंप्यूटर नेटवर्क को वायर या वायरलेस कनेक्शन के माध्यम से एक साथ जोड़ता है router एक कंप्यूटर नेटवर्क को दूसरे कंप्यूटर  नेटवर्क के साथ कनेक्ट करता है इसीलिए इसे इंटरनेट वेकिंग डिवाइस भी कहा जाता है

एक नेटवर्क को इंटरनेट से कनेक्ट करने  के लिए router को modem के साथ कनेक्ट करना होता है इसीलिए अधिकतर Router में एक विशेष पोर्ट होता है जिसे केबल या DSL  modem के ethenic पोर्ट से कनेक्ट करने के लिए डिजाइन किया गया है Router में एक cpu कई प्रकार के डिजिटल मेमोरी और इनपुट ऑप्टपुत इंटरफ़ेस होता है

 

Router क्या है ? 

 

Router की मदद से नेटवर्क में उपलब्ध एक से अधिक कंप्यूटर को फिजिकल इंटरफ़ेस कनेक्शन के जरिये उन सभी कंप्यूटर को इंटरनेट  की सुविधा प्रदान की जाती है लेकिन Routerके लिए यह कंप्यूटर डायरेक्टली इंटरनेट कस साथ कनेक्ट नही हो सकते उसके लिए Router को एक ऐसे डिवाइस के साथ जुड़ता होता है जो उन कंप्यूटर को इंटरनेट कनेक्शन प्रदान कर सके और वह डिवाइस होती है modem इसीलिए Router की पोजीशन  आप की Modem और कंप्यूटर के बीच होती है

 

Open Source Software kya hai ?

HDD And SDD Kya Hota Hai ?

 

Router का काम क्या है ? 

Router का काम डेटा को एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में पहुचने का होता है यह डेटा को packed के रूप में एक नेटवर्क से दूसरे नेटवर्क में भेजने का काम करती है इसका मुख्य कारण है पैक्ड को रिसीव करना और packed में ip address रहता है router इस address को अपने नेटवर्क में मौजूद कंप्यूटर के एड्रेस के साथ चेक करता है और फिर उस packed को सभी distulation reciver तक पहुचने के लिए छोटा पाथ ढूंढ कर डेटा भेज देता है कुछ इस तरह से यह नेटवर्क डिवाइस काम करती है

 

Router कितने प्रकार के होते है ? 

आधुनिक दुनिया मे दो प्रकार के router होते है

  •   Broadband  router
  •  Wireless Router

Broadband router कई प्रकार के काम कर सकते है जिनका इस्तेमाल कंप्यूटर को आपस मे जोड़ने के लिए और इंटरनेट से जोड़ने के लिए किया जाता है

Wireless Router इंटरनेट के माध्यम से डेटा को डिवाइस पर भेजता है और इसके लिए डिवाइस wireless एक्सेस  पॉइंट के रूप में काम करता है इसीलिए यह डेटा को किसी अन्य केवल के बजाय रेडियो  सिग्नल के माध्यम से शेयर करता है wireless router एक ऐसा एरिया बनाता है जिससे अंदर जितने भी कंप्यूटर लैपटॉप मोबाइल होते है वह सभी इंटरनेट का इस्तेमाल करते है इसमें सिक्योरटी के लिए पासवर्ड और IP एड्रेस का इस्तेमाल किया जाता है

 

Modem और Router के बीच अंतर  क्या है ? 

 

Modem और router के बारे में तो आप समझ ही गए होंगे कि यह कैसे काम करते है इन दोनों का काम यूजर का इंटरनेट का सेवा प्रदान करना होता है लेकिन इनके बीच मे कुछ अंतर भी होते है

 

 

Modem और Router के बीच अंतर  क्या है ? 

 

1. Modem पारम्परिक तरीके से पूर्ण लाइन के जरिये हमे इंटरनेट की सुविध देता है और राऊटर का काम modem के साथ जुड़ कर उससे आने वाले डिजिटल सिग्नल को एक ज्यादा कंप्यूटर या डिवाइस तक पहचान होता है इसका मतलब है कि राऊटर हमे डायरेक्टली इंटरनेट के साथ जोड़ नही सकता

2.  बिना modem के router हमे इंटरनेट की सुविधा प्रदान नही करती लेकिन modem हमे बिना राऊटर के भी इंटरनेट की सुविधा दे सकता है

3.  Modem केवल एक ही कंप्यूटर को इंटरनेट कनेक्शन दे सकता है जबकि राऊटर एक से ज्यादा कंप्यूटर को एक साथ नेटवर्क मे जोड़ कर प्रत्येक कंप्यूटर में इंटरनेट कंननेक्ट पहुचा सकता है

4.  Router के जरिये wireless तरीके से डिवाइस को wi fi से कनेक्ट करके इंटरनेट सुविधा दी जाती है लेकिन modem के केस में ऐसा करना संभव नही है मॉडेम से इंटरनेट एक्सेस करने के लिए डिवाइस को वायर या केबल की आवश्यक्ता होती है

5.  Router लोकल नेटवर्क  क्रिएट कर सकता है जो कंप्यूटर के साथ प्रिंटर स्कैनर मोबाइल आदि के साथ जोड़ कर एक नेटवर्क बना सकता है जिसमे इंटरनेट कनेक्शन शेयर करने के अलावा डेटा और फ़ाइल भी शेयर किया जाता है जबकि मॉडेम में लोकल नेटवर्क क्रिएट करना नामुमकिन है इससे केवल इंटरनेट की सुविधा ही पाई जा सकती है

 

निष्कर्ष 

उम्मीद है मॉडेम क्या है और राऊटर क्या है यह काम कैसे करता है और उनके बीच मे क्या अंतर है ? इससे जुडी सारी जानकारी आप को मिल गयी होगी अगर आप को इस पोस्ट से जुडी कोई भी परेशानी हो तो आप हमे निचे कमेंट में जरूर बताये जिससे हम आप के परेशानी को जल्द से जल्द दूर कर सके मेरी हमेशा से एहि कोशिश रहती है की हमारे द्वारा दिए गए विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त हो सके जिससे आप को कही और जाना न पड़े।

Default image
RAHUL
नमस्कार दोस्तो मेरा नाम राहुल विश्वकर्मा है , और मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ । मैं अभी कंप्यूटर साइंस से डिप्लोमा कर रहा हूँ , मुझे टेक्नोलॉजी से संबंधित जानकारी शेयर करना बेहद पसंद है । अगर आप टेक्नोलॉजी , कंप्यूटर , इंटरनेट और ऑनलाइन पैसे कैसे कमाये से सम्बंधित विषय मे रुचि रखते है , तो यह ब्लॉग आप के लिए ही बनाया गया है ।

Leave a Reply